West Bengal Assembly Election: कई दिग्गज उम्मीदवारों की सूची को बीजेपी देने जा रही अंतिम रूप

0
45
बीजेपी

कोलकाता। बीजेपी केंद्रीय नेतृत्व ने बंगाल में विधानसभा चुनाव के लिए पहले दो चरणों के 60 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवारों की सूची को अंतिम रूप देने की तैयारी कर ली है। प्रदेश भाजपा के शीर्ष नेतृत्व नई दिल्ली पहुंचे हुए हैं और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा व केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में बैठक होनी है। बुधवार रात को ही एक दौर की बैठक हो चुकी है और गुरुवार शाम तक उम्मीदवारों की सूची को अंतिम रूप दे दिया जाएगा।

पश्चिम बंगाल में कई ऐसे चर्चित चेहरे हैं जो टिकट के इंतजार में हैं। कोलकाता से लेकर दिल्ली तक संपर्कों के घोड़े दौड़ा रहे हैं ताकि इसबार उन्हें पार्टी के टिकट पर उम्मीदवारी का मौका मिल जाए। इसमें कोई चार्टर्ड अकाउंटेंट है तो कोई प्रतिष्ठित शिक्षक, कोई पत्रकारिता के पेशे से राजनीति में कूदा है तो कोई चलचित्र जगत का मशहूर चेहरा है। कोई राजनीति का पुरोधा है तो कोई खेल जगत का चर्चित चेहरा।

हाल ही में अभिनेता यश दासगुप्ता ने भाजपा की सदस्यता ली है। बताया जा रहा है कि वे भी टिकट के इंतजार में हैं। इसी तरह भाजपा में शामिल हुई अभिनेत्री श्रावंती चटर्जी भी इसी सूची में हैं। उन्हें इंतजार है कि बालूरघाट विधानसभा क्षेत्र से भाजपा उन्हें उम्मीदवार बनाएगी।

एक समय में बांग्ला दैनिक अखबार में पत्रकारिता करने वाली संघमित्रा चौधरी भाजपा में हैं और महिला मोर्चा की सक्रिय सदस्य के तौर पर बहुचर्चित रही हैं। जादवपुर और रायदिघी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने का आवेदन भी उन्होंने भरा है। उन्होंने कह कि 2016 के विधानसभा चुनाव में उन्हें पार्टी ने रायदिघी से उम्मीदवार बनाया था। 2011 में यहां भाजपा को करीब 3000 लोगों ने वोट किया था जो 2016 में बढ़कर 12000 तक पहुंचा था। इसबार कहां से पार्टी उम्मीदवार बनाएगी पता नहीं लेकिन उम्मीद है कि टिकट मिलेगा।

इसी तरह से जादवपुर विश्वविद्यालय के केमिकल इंजीनियरिंग डॉक्टरेट मोहित रॉय को भी उम्मीद है कि उन्हें जादवपुर विधानसभा केंद्र से उम्मीदवार बनाया जा सकता है। मनोरंजन जोआरदार को दक्षिण 24 परगना के सोनारपुर विधानसभा केंद्र से उम्मीदवार बनने की उम्मीद है। 2016 में उन्हें पार्टी ने यहीं से टिकट दिया था।

दक्षिण कोलकाता में मिताली साहा भी उम्मीदवार बनने की उम्मीद में हैं। उन्होंने कहा कि अगर पार्टी टिकट देगी तो खुशी होगी। मुझे पता चला है कि 46000 लोगों ने उम्मीदवारी के लिए आवेदन भरा है। पूर्व पत्रकार दिवाकर रॉय भी इस सूची में हैं। मुकुल रॉय के बेहद करीबी माने जाने वाले दिवाकर ने इस संबंध में मीडिया से कुछ भी कहने से मना कर दिया लेकिन उन्होंने कहा कि टिकट मिले तो कौन उम्मीदवार नहीं बनना चाहेगा।

खैर जो भी हो बंगाल में फिलहाल परिवर्तन की बयार बह रही है और इसके साथ अपनी नाव की पतवार बांधने के लिए छोटे से लेकर बड़े स्तर के नेता तैयार बैठे हैं। अब जब भाजपा उम्मीदवारों की सूची जारी करेगी तभी पता चलेगा कि उनमें से कितनों की उम्मीदें पूरी हुई और कितनों की उम्मीदों पर पानी फिरा है।