पीएम मोदी का अमेरिका दौरा – पीएम बोले- यह दौरा अमेरिका से स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप मजबूत करने का मौका

0
16
पीएम नरेंद्र मोदी की अमेरिकी यात्रा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अमेरिका के दौरे पर रवाना होने वाले हैं। इससे पहले उन्होंने एक बयान जारी कर कहा कि यह दौरा अमेरिका से स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप मजबूत करने का मौका होगा। पीएम मोदी के साथ इस दौरे में विदेश मंत्री एस जयशंकर और NSA अजीत डोभाल समेत एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी जा रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी दौरे पर मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन 24 सितंबर को व्हाइट हाउस में पहली बार आमने-सामने मुलाकात करेंगे। बाइडेन के राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार प्रधानमंत्री मोदी की और बाइडेन की मुलाकात फिजिकली होगी।

इससे पहले मोदी 23 सितंबर को अमेरिका की वाइस प्रेसिडेंट कमला हैरिस से भी मुलाकात करेंगे। सोमवार को ही व्हाइट हाउस ने राष्ट्रपति बाइडेन का साप्ताहिक कार्यक्रम भी घोषित किया। इसमें प्रधानमंत्री मोदी से उनकी मुलाकात का जिक्र किया गया है।

न्यूज एजेंसी से बातचीत में व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने कहा, ‘मोदी अमेरिका दौरे पर आ रहे हैं। हम चाहते हैं कि दोनों देशों के रिश्ते और ज्यादा मजबूत हों। बाइडेन-हैरिस एडमिनिस्ट्रेशन भारत के साथ अपनी ग्लोबल पार्टनरशिप को नए आयाम देना चाहती है। हम चाहते हैं कि हिंद और प्रशांत महासागर में आवाजाही को आसान बनाया जाए।’

24 सितंबर को ही बाइडेन क्वॉड देशों के राष्ट्राध्यक्षों से भी मुलाकात करेंगे। इसमें बाइडेन और मोदी के अलावा जापान के प्रधानमंत्री सुगा और ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हिस्सा लेंगे। बता दें कि यह असैन्य संगठन है। इसमें सैन्य और रक्षा मामलों को छोड़ अन्य सभी मुद्दों पर बातचीत होती है।

विदेश मंत्रालय के मुताबिक, क्वॉड की मीटिंग में नई टेक्नोलॉजी, सायबर सिक्योरिटी, समुद्री सुरक्षा, मानवीय सहायता और डिजास्टर मैनेजमेंट के अलावा क्लाइमेट चेंज जैसे मुद्दे शामिल होंगे। चीन के रवैये को लेकर किसी कारगर रणनीति पर भी विचार किया जा सकता है, क्योंकि क्वॉड देशों के लिए चीन साझा चुनौती पेश कर रहा है।