इजरायल-फलस्तीन के संघर्ष में चारों तरफ तबाही का मंजर, मरने वालों की संख्या 43 हुई

0
20
इजरायल फिलिस्तीन संघर्ष

यरूसलम/गाजा। इजरायल-फलस्तीन संघर्ष के बाद हर तरफ तबाही का मंजर दिखाई दे रहा है। इजरायल ने फलस्तीन के कई शहरों पर हमले किए, वहीं चरमपंथी हमास ने गाजा पट्टी से एक हजार से अधिक राकेट इजरायल पर दागे, जिसके बाद इजरायल ने अपने युद्धक विमानों को युद्ध में उतार दिया है।

दोनों देशों ने एक-दूसरे को अधिक से अधिक नुकसान पहुंचाने का दावा किया है। इजरायल ने हमास नेताओं के कार्यालय, घरों पर हमला कर कई नेताओं को मारने का दावा किया है। गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, मरने वालों की संख्या 43 हो गई है। इनमें 13 बच्चे और तीन महिलाएं शामिल हैं। तीन सौ लोग घायल भी हुए हैं। इजरायल ने भी अपने यहां छह लोगों के मरने की पुष्टि की है।

गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि जिस बिल्डिंग पर राकेट दागे हैं, उनमें तेरह बच्चों की मौत हुई है। इजरायल ने कहा है कि वह आबादी पर राकेट नहीं दाग रहा है।

हमास के गाजा मिलिट्री चीफ समेत कई कमांडरों को मारने का दावा

इजरायल के हवाई हमले में उग्रवादी संगठन हमास के गाजा सिटी कमांडर समेत कई कमांडरों को मार गिराने का दावा किया गया है। वहीं हमास ने गाजा सिटी कमांडर के मरने की पुष्टि की है। हमले में मारा जाने वाला बसम ईसा हमास का अबतक का सबसे बड़ा अधिकारी था। दो दिन से गाजा में जारी लड़ाई में ईसा दूसरे कई साथियों के साथ मारा गया है।

इससे पहले इजरायल की आंतरिक खुफिया एजेंसी ने कहा था कि इजरायल के हवाई हमलों में ईसा और हमास के दूसरे उग्रवादी मारे गए हैं। गाजा पट्टी में ईसा और दूसरे कमांडरों को अलग-अलग जगहों का जिम्मा दिया गया था। इजरायली हवाई हमले के जवाब में हमास ने अब तक का सबसे बड़ा हमला किया था और एक के बाद एक 130 रॉकेट तेलअवीव और अन्‍य आबादी वाले इलाकों की ओर दागे थे।

इस हमले की चपेट में आने से एक भारतीय नर्स की मौत हो गई। इससे पहले इजरायल ने मंगलवार को गाजा पर हवाई हमले कर दो बहुमंजिला इमारतों को निशाना बनाया। इनमें हनादी टॉवर भी शामिल है।

फलस्तीन के रॉकेटों को हवा में नष्ट कर रहा ‘आयरन डोम’

गाजा पट्टी में इजरायल की ओर 1050 से अधिक रॉकेट और मोर्टार दागे गए। वहीं, फिलिस्तीन ने भी रॉकेट दागे लेकिन इजराइल के ‘आयरन डोम’ एयर डिफेंस सिस्टम ने 90 प्रतिशत मिसाइलों को हवा में ही नष्ट कर दिया।

बता दें कि आयरन डोम को दुनिया का बेस्ट एंटी मिसाइल डिफेंस सिस्टम कहा जाता है। इसे इजराइल की फर्मों राफेल एडवांस्ड डिफेंस सिस्टम्स और इजराइल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज द्वारा विकसित किया गया है, जिसमें संयुक्त राज्य अमेरिका से वित्तीय और तकनीकी सहायता भी ली गई है। हाई टेक्नोलॉजी से लैस आयरन डोम एक छोटी दूरी का एयर डिफएंस सिस्टम हैं जिससे रॉकेट, मोर्टार को हवा में ही नष्ट किया जा सकता है।