ममता को सता रहा है भवानीपुर में भी हार का डर, इसलिए वोटरों से कर रही हैं भावुक अपील

0
18
ममता बनर्जी

नंदीग्राम सीट पर बीजेपी उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी से हारने के बाद बंगाल पर जीत भी फीका हो गया है। अब भवानीपुर सीट से उन्हें हार का डर सताने लगा है। इसलिए ममता बनर्जी भवानीपुर सीट पर प्रचार के दौरान वोटरों से भावुक अपील करने में जुटी हैं।

ममता ने भवानीपुर में अपना चुनावी बिगुल फूंक दिया है और वह यहां की जनता के एक-एक वोट को कीमती बताकर उनसे किसी भी स्थिति में वोट करने की अपील कर रही हैं।

बुधवार को इकबालपुर में अपनी एक रैली के दौरान ममता ने जनता से कहा कि मेरे लिए एक-एक वोट जरूरी है। अगर आप यह सोच कर वोट नहीं करेंगे कि दीदी तो पक्का जीतेंगी, तो यह बहुत बड़ी भूल होगी।

ममता बनर्जी ने आगे कहा कि अगर बारिश या तूफान भी आ जाए तो भी घर पर मत बैठे रहना, अपना वोट डालने जरूर जाना, नहीं तो मैं मुख्यमंत्री बने नहीं रह सकूंगी। आपको एक नया मुख्यमंत्री मिलेगा।

ममता की लोगों से की गई यह अपील साफ दिखाती है कि वह किसी भी कीमत पर भवानीपुर उपचुनाव हारना नहीं चाहती हैं। अब ममता के लिए एक-एक वोट जरूरी हो गया है।

भवानीपुर में भी ममता बनर्जी की सबसे बड़ी प्रतिद्ंद्वी पार्टी बीजेपी ही है। ममता की इस अपील पर बीजेपी आईटी सेल के मुखिया अमित मालवीय ने निशाना साधा। मालवीय ने ट्वीट किया कि भवानीपुर में लहर वैसी नहीं है जैसा ममता बनर्जी ने सोचा था।

ऐसा लग रहा है कि उन्होंने भांप लिया है कि उपचुनाव उनके लिए मुश्किल होने जा रहा है। वह मजबूरी में कैंपेन कर रही हैं। लेकिन जनता की चुप्पी में ही असली कहानी छिपी है।