इंग्लैंड के तेज गेंदबाज हैरी गुर्ने ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास

0
14
तेज गेंदबाज हैरी गुर्ने

नॉटिंघमशायर। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज हैरी गुर्ने ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है। गुर्ने ने संन्यास का फैसला लगातार चोट के कारण लिया है। नॉटिंघमशायर के लिए घरेलू क्रिकेट खेलने वाले गुर्ने चोट की वजह से वैटेलिटी ब्लास्ट 2020 में भी नहीं खेल पाए थे।

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के लिए खेल चुके गुर्ने ने अपने करियर में तीनों प्रारूपों में कुल 614 विकेट लिए हैं। गुर्ने साल 2019 में केकेआर के लिए मैदान पर उतरे थे और इस सीजन में उन्होंने सात विकेट लिए हैं।

गुर्ने ने संन्यास की घोषणा करते हुए इंस्टाग्राम पर लिखा, ”अब समय आ गया है कि मैं अपने करियर को विराम दूं। मैंने अपने चोट से उबरने के लिए काफी कोशिश की लेकिन ऐसा नहीं हो पाया। मैं निराश हूं कि मैं अपने करियर का अंत इस तरह से कर रहा हूं।”

उन्होंने लिखा, ”मैंने पहली बार जब क्रिकेट बॉल पकड़ा था तो उस समय मेरी उम्र 10 साल की थी। मैं पूरे 24 साल तक क्रिकेट से जुड़ा रहा हूं। मेरा यह सफर बहुत ही बेहतरीन रहा और मैं इसे ताउम्र याद रखुंगा।”

गुर्ने ने कहा, ”इंग्लैंड के लिए खेलना, IPL और घर में 8 खिताबी जीत जिसमें वैटेलिटी ब्लास्ट के साथ बिग बैश लीग और सीपीएल में खेलना मेरे लिए किसी सपने से कम नहीं रहा है।”

गुर्ने के इंग्लैंड के लिए 10 एकदिवसीय और दो टी-20 मैच खेले। एक दिवसीय में उन्होंने 11 और टी-20 में तीन विकेट अपने नाम किए हैं। वहीं 103 प्रथम श्रेणी मैचों में उन्होंने 310 विकेट हासिल किया है।