नेताजी की 125वीं जंयती पर ममता बनर्जी ने निकाली पद यात्रा, कहा- भाजपा का प्रेम ‘नाटक’

0
37
ममता बनर्जी की पैदल मार्च

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस (Subhash Chandra Bose) की 125वीं जयंती पर आठ किलोमीटर लंबे भव्य पदयात्रा निकाली। पदयात्रा के दौरान उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधा। नेताजी की जयंती पर देश के कई हिस्सों में कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं।

ममता बनर्जी ने सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी और केंद्र सरकार से 23 जनवरी को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की अपील की। इस अवसर उन्होंने कहा कि आजाद हिंद फौज के नाम पर राजरहाट क्षेत्र में एक समाधि स्थल का निर्माण किया जाएगा और नेताजी के नाम पर एक विश्वविद्यालय की भी स्थापना हो रही है। इस विश्वविद्यालय का वित्तपोषण राज्य सरकार करेगी।

पैदल मार्च के दौरान ममत बनर्जी ने नेताजी को याद करते हुए कहा कि नेता जी ने आजादी से पहले योजना आयोग और भारतीय राष्ट्रीय सेना की परिकल्पना की थी। नेताजी दूरदर्शी थे। भाजपा पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि वह दावा करते हैं कि वह उनका सम्मान करते हैं, लेकिन योजना आयोग को खत्म कर दिया। हम इसे उनकी 125 वीं जयंती के कारण एक भव्य अवसर के रूप में मना रहे हैं।

ममता बनर्जी की पैदल यात्रा को आगामी विधानसभा चुनाव की रूपरेखा तैयार करने की दिशा में एक अहम कदम माना जा रहा है। ममता बनर्जी ने ट्विटर पर कहा, ‘इस साल कोलकाता में गणतंत्र दिवस की परेड नेताजी को समर्पित होगी। हम सभी लोगों से अपील करते हैं कि वे अपने घरों में शंख बजाएं। केंद्र सरकार को 23 जनवरी को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करना चाहिए। हम यह दिवस देश नायक दिवस के रूप में मना रहे हैं। पश्चिम बंगाल सरकार ने 23 जनवरी, 2022 तक साल भर कार्यक्रमों के आयोजन लिए एक समिति भी गठित की है।’