दिशा रवि की गिरफ्तारी पर पहली बार बोले गृहमंत्री, उम्र का अपराध से कोई लेना-देना नहीं

0
217
Home minister spoke for the first time on the arrest of Disha Ravi

नई दिल्ली। किसान आंदोलन से जुड़े टूलकिट केस में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बेंगलुरु से पर्यावरण एक्टिविस्ट दिशा रवि को गिरफ्तार किया था। दिशा की उम्र 21 साल है। अब इस मामले में पहली बार गृहमंत्री अमित शाह का बयान सामने आया है।

गृहमंत्री अमित शाह ने गिरफ्तारी और पुलिस की प्रक्रियाओं का बचाव करते हुए कहा कि किसी भी अपराधी की उम्र नहीं देखनी चाहिए। टूलकिट और किसान आंदोलन में खालिस्तानी लिंक के मसले पर हो रही जांच के सवाल पर उन्होंने कहा कि मैं इस केस की मेरिट में नहीं जाता हूं। पुलिस अपने हिसाब से काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि यदि कोई व्यक्ति कोई अपराध करता है तो उसकी उम्र या पेशा पूछना चाहिए क्या? ऐसा करना गलत है। दिल्ली पुलिस इस मामले में पूरी जिम्मेदारी और प्रोफेशनल तरीके से काम कर रही है।

अमित शाह ने कहा कि यदि कल कोई व्यक्ति बड़ा गुनाह कर देता है तो क्या यह कहा जाएगा कि क्यों किसान, प्रोफेसर और नेताओं पर दर्ज हुआ है। जेंडर, प्रोफेशन और उम्र के आधार पर अपराध दर्ज नहीं किया जाएगा। एक नया फैशन चल गया है।

उन्होंने कहा कि यदि कोई गलत एफआईआर है तो आप कोर्ट जा सकते हैं। 21 साल की उम्र के तो तमाम लोग हैं, लेकिन दिशा रवि को ही क्यों अरेस्ट किया गया है। दिल्ली पुलिस प्रोफेशनल काम कर रही है। इसके खिलाफ अदालत खुली है और वहां चले जाना चाहिए।