कोरोना के इलाज के लिए DCGI ने ‘विराफिन’ दवा के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी

0
16
कोरोना की दवा

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus) मरीजों के इलाज में तेजी लाने के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DGCI) ने शुक्रवार को जाइडस कैडिला की दवा विराफिन (Virafin) के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दे दी। इस दवा का इस्तेमाल 18 साल से अधिक उम्र के लोगों पर किया जा सकता है।

कंपनी का दावा – 7 दिनों में 91 फीसदी रिकवरी रेट

कंपनी ने दावा किया है कि दवाई खाने के बाद 7 दिन में 91.15 फीसदी कोरोना पीड़ितों का RT-PCR टेस्ट पॉजिटिव से निगेटिव हो गया। इसके इस्तेमाल से कोरोना मरीजों को जल्दी ठीक होने में मदद मिलती है और बीमारी के एडवांस स्टेज में होने वाली जटिलताओं से बचा जा सकता है।

बता दें कि जायडस कैडिला गुजरात के अहमदाबाद की दवा निर्माता कंपनी है। कंपनी की तरफ से कहा गया है कि Pegylated Interferon alpha-2b, ‘Virafin’ के कोरोना संक्रमित वयस्कों में आपात इस्तेमाल से काफी मदद मिलेगी।

कंपनी ने कहा कि भारत सरकार से आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी मिलने के बाद इस दवा को अस्पतालों में पहुंचाया जाएगा। यह एक एंटीवायरल दवा है जो कोरोना के इलाज को और सुविधाजनक बना देगा। बताया जा रहा है कि यह दवा ऑक्सीजन सपोर्ट को कम करने में व मरीज की हालत में जल्दी से सुधार लाने में कारगर है।

भारत में 24 घंटे में 3.32 लाख मामले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में देश में 3,32,175 कोरोना के नए मामले सामने आए। इस दौरान 2,255 और लोगों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 1,86,927 हो गई। देश में 24,21,970 सक्रिय कोरोना मामले हैं। इन नए मामलों के साथ देश में अब तक कोरोना से 1,62,57,164 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 1,36,41,572 लोग ठीक भी हो चुके हैं। देश में कोरोना के 24.21 लाख से अधिक सक्रिय मामले हैं।