भारत ने अमेरिका को पछाड़ा, एक दिन में 3.32 लाख नए केस, 22 सौ से ज्यादा की मौत

0
21
कोरोना वायरस संक्रमण

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस की गंभीरता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कोरोना की दूसरी लहर से देश की चिकित्सा व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। देश में महामारी ने शुक्रवार को पूरी दुनिया का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

देश में 24 घंटों के दौरान 3.32 लाख से अधिक कोरोना के नए मामले दर्ज किए गए हैं। इस महामारी से पिछले 24 घंटों में 2,256 मरीजों ने दम तोड़ दिया। कोरोना से एक दिन के अंदर मरने वालों का यह आंकड़ा सबसे ज्यादा है। इससे पहले बुधवार को 2,101 और मंगलवार को 2,021 मौतें हुई थीं। महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक एक दिन में संक्रमितों की यह संख्या पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है। इससे पहले अमेरिका इस मामले में एक नंबर पर था।

लगातार गिर रहा रिकवरी रेट

भारत में कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों की रिकवरी रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। आंकड़ों के अनुसार, इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या 1,34,47,040 हो गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा गुरुवार को जारी आंकड़े के मुताबिक, 24 घंटे की अवधि में 3,14,835 नए मामले दर्ज किए गए। वहीं 2,104 लोगों की मौत के साथ मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,84,657 हो गई। अकेले महाराष्ट्र में 568 लोगों की मौत हुई। लगातार बढ़ते मामलों से ठीक होने की दर गिरकर 84.46 फीसद हो गई।

75 फीसदी मौतें सिर्फ 8 राज्यों से

देश में गुरुवार को 568 लोगों की मौत महाराष्ट् में अकेले हुई है। दिल्ली में 249, यूपी में 187, छत्तीसगढ़ में 193, गुजरात में 125, कर्नाटक में 116, पंजाब में 69 और मध्यप्रदेश में 75 लोगों की मौत हुई है। इन राज्यों के मिलाकर कुल 1556 मरीजों की मौत हुई है जो राष्ट्रीय आंकड़ें (2101 मौतें) का 75.2 फीसदी है।

59 प्रतिशत मरीज सिर्फ इन राज्यों से

देश में गुरुवार को कोरोना के 3 लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 67,468 नए संक्रमित मिले हैं। उत्तर प्रदेश में 33,106 मरीज, दिल्ली में 24,638 मरीज, कर्नाटक में 23,558 मरीज, केरल में 22,414 मरीज और छत्तीसगढ़ में 14 हजार 519 नए कोरोना मरीज मिले हैं।

एक दिन में 16,51,711 नमूनों की जांच

आइसीएमआर के अनुसार, 21 अप्रैल तक 27,27,05,103 नमूनों की जांच की गई जबकि अकेले बुधवार को 16,51,711 नमूनों की जांच हुई।