बंगाल में अब होगा असल परिवर्तन, सबकी उन्नति होगी पर तुष्टिकरण किसी का नहीं – पीएम मोदी

0
192

कोलकाता। कोलकाता के बिग्रेड परेड ग्राउंड में पीएम मोदी की रैली में शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में लोग जमा हुए हैं। रैली से पूर्व ही अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती भी सभी अटकलों को विराम देते हुए मंच पर पहुंच गए हैं। मिथुन के साथ मंच पर कैलाश विजयवर्गीय, शिव प्रकाश, मुकुल रॉय सहित बीजेपी के वरिष्ठ नेता उपस्थित प्रदेश भाजपा नेताओं ने दावा किया है कि प्रधानमंत्री की रैली ऐतिहासिक होगी।

उन्होंने दावा किया था कि बिग्रेड ग्राउंड में 10 लाख से अधिक लोगों की भीड़ जुटेगी। सभा स्थल और कोलकाता में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। ड्रोंन से भी निगरानी हो रही है। मैदान के आसपास 1500 सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। वहीं 3000 से अधिक सुरक्षाकर्मी तैनात हैं।

भाजपा में शामिल होने के बाद मिथुन चक्रवर्ती ने कहा कि वे दिल से बंगाली हैं। बंगला में रहने वाला हर व्यक्ति बंगाली है। मैं जो बोलता हूं वो करता हूं। हम गरीबों के लिए कुछ करना चाहते थे। प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन से पहले सुवेंदु अधिकारी ने कहा कि टीएमसी एक राजनीतिक पार्टी नहीं, बल्कि एक निजी लिमिटेड कंपनी बन गई है। ममता बनर्जी इसकी अध्यक्ष हैं।

PM Modi Live Rally in Kolkata

ब्रिगेड ग्राउंड पहुंचकर पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत में बंगाल के लोगों को प्रणाम कहा। मैदान में मौजूद भीड़ को देखते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने आज तक ऐसा जनसैलाब नहीं देखा।

बंगाल ने परिवर्तन के लिए ममता दीदी पर भरोसा किया था लेकिन दीदी और उनके काडर ने आपका यह भरोसा तोड़ दिया। आपके सपनों को चूर-चूर कर दिया। इन लोगों ने बंगाल को अपमानित किया। यहां की बहन-बेटियों पर अत्याचार किया। लेकिन ये लोग बंगाल के लोगों का हौसला कभी नहीं तोड़ पाए।

साथियों, भारत माता की इस जयकार की गूंज, बंगाल के कोने-कोने तक जा रहा है। भारत माता के आशिर्वाद से सोनार बांग्ला का सपना जरूर पूरा होगा। मैं इस बिग्रेड गाउंड से आपको बंगाल के विकास का विश्वास दिलाने आया हूं।

मैं विश्वास दिलाने आया हूं कि आपके लिए यहां के नौजवानों, किसानों और उद्यमियों के लिए, यहां के बहनों और भाईयों के विकास के लिए हम 24 घंटे दिन-रात मेहनत से काम करेंगे।

आपकी सेवा करने का भरोसा देने आया है। पल-पल आपके सपनों को जीएंगे। सिर्फ चुनाव नहीं आपका दिल जीतेंगे। अब असल परिवर्तन होगा। जो भी बंगाल से छीना गया है उसे वापस लौटाएंगे।

असल परिवर्तन का मतलब ऐसा बंगाल जहा युवाओं को शिक्षा और रोजगार के मौके मिले, लोगों को पलायन के लिए मजबूर न होना पड़े, जहां व्यापार और कारोबार फले-फूले, जहां ज्यादा से ज्यादा निवेश आए, जहां इक्कीसवीं सदी का आधुनिक इनफ्रास्ट्रक्चर हो, जहां गरीब से गरीब को भी आगे बढ़ने का पूरा अवसर मिले।

पश्चिम बंगाल में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के विस्तार को भी बल दिया जाएगा। टेक्निकल एजुकेशन की पढ़ाई भी बांग्ला भाषा में होगा। हम ऐसी व्यवस्था बनाएंगे कि एक गरीब की बेटी, झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाला बच्चा भी बेहतर शिक्षा हासिल कर सके।

साथियों, आज बंगाल में माँ, माटी, मानुष की क्या स्थिति है, ये आप भली-भांति जानते हैं। माँ पर गली-गली में हमले होते हैं। घर में घुसकर माँ पर हमले होते हैं। 80 साल की माँ पर जो हमला हुआ है वह इन लोगों का क्रूर चेहरा सबको दिखा दिया है। कोई सवाल न उठा सके, इसलिए ये आंकड़े भी छुपा करके बैठ गए हैं।

आज बंगाल का मानुष परेशान है। वो अपनों को अपनी आंखों के सामने लुटता हुए दिखता है। वो अवसरों के अभाव में अपनों को पलायन करते देखता है। अब पूरा बंगाल एक स्वर में कह रहा है, और नाय, और नाय।

बंगाल ने आपको दीदी के रूप में चुना था लेकिन आपने खुद को एक ही भतीजे की बुआ तक सीमित क्यों कर लिया। आप अपने भतीजे का लालच पूरा करने में क्यों लग गई। आप भी भाई-भतीजावाद के उन कांग्रेसी संस्कारों को नहीं छोड़ पाईं, जिनके खिलाफ आपने बगावत की थी।

अपने 3 दशक के कार्यकाल में जिस हाथ को काला मानते थे आज उसे कैसे गोरा मान लिया। जिस हाथ को तोड़ने की बात लेफ्ट करता था आज उसी का आशीर्वाद ले लिया।

विपक्ष के लोग कहते हैं कि मैं दोस्तों के लिए काम करता हूं। बंगाल के चायवाले, टी गार्डन वाले ये तो मेरे विशेष दोस्त हैं क्योंकि चाय से मेरा अलग ही नाता है। हम जिनके साथ बड़े हुए हैं, वे हमारे सबसे अच्छे दोस्त हैं। मैं गरीबी में पला-बढ़ा हूं। इसलिए मैं भारत के हर कोने में रहने वाले गरीब लोगों की दुर्दशा को समझता हूं। मैं अपने दोस्तों के लिए काम करता हूं और आगे भी करता रहूंगा।

मैं दीदी को बहुत समय से जानता हूं। वह वही व्यक्ति नहीं है, जिसने वामपंथ के खिलाफ आवाज उठाई थी। वह अब किसी और की भाषा बोलती हैं। आपने बंगाल को विकास के बजाय अलगाव की ओर धकेल दिया है और इसी वजह से कमल खिल रहा है। आपने लोगों को धार्मिक तर्ज पर विभाजित किया। इसी वजह से कमल खिल रहा है।

पीएम मोदी ने कहा, आप यह अच्छी तरह से जानते हैं कि यहां लोकतांत्रिक व्यवस्था कैसे नष्ट हो गई है। बीजेपी यहां लोकतांत्रिक व्यवस्था को मजबूत करेगी। हम सरकार, पुलिस और प्रशासन के प्रति जनता का विश्वास बहाल करेंगे। केंद्र की हमारी सरकार ने कोलकाता की धरोहरों को संवारने के लिए अनेक प्रयास किए हैं, जब कोलकाता में विकास का डबल इंजन लग जाएगा तो वो रोड़े भी खत्म हो जाएंगे जो अभी कदम-कदम पर हमें अनुभव होते हैं।

बता दें कि पश्चिम बंगाल में कुल 8 चरणों में विधानसभा चुनाव होंगे। पहले और दूसरे चरण के सीटों के लिए पार्टियों ने अपनी-अपनी उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दिया है। बीजेपी ने शनिवार को 57 सीटों पर अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया। नंदीग्राम से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ भाजपा ने शुभेंदु अधिकारी को उतारा है।