2020 में ही मारा गया था हैबतुल्लाह अखुंदजादा, तालिबान ने किया कन्फर्म

0
12
तालिबान सुप्रीम लीडर अखुंदजादा

अफगानिस्तान में तालिबान फिर से 20 साल बाद वापस आ गया है। अब तालिबान ने अपने सुप्रीम लीडर हैबतुल्लाह अखुंदजादा को लेकर जारी सस्पेंस को भी खत्म कर दिया है। अब तालिबान ने सुप्रीम लीडर हैबतुल्लाह अखुंदजादा की मौत की पुष्टि कर दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आतंकी संगठन ने बताया कि 2016 से तालिबान का मुखिया रहा हैबतुल्लाह अखुंदजादा साल 2020 में पाकिस्तान में एक आत्मघाती हमले में मारा गया था। बता दें कि 15 अगस्त को तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था। जिसके बाद से ही यह कयास लगाए जा रहे थे कि अखुंदजादा अब सबसे सामने आएंगे। लेकिन ऐसा कभी हुआ नहीं।

अफगानिस्तान की सत्ता में तालिबान की वापसी के बाद से ही सबकी निगाहें इस बात पर टिकी थीं कि आखिर तालिबान का मुखिया अखुंदजादा कहां है। इससे पहले हैबतुल्लाह अखुंदजादा के गायब होने रहने पर कई तरह की अटकलें थीं। कोई मरने की बात कहता था तो कोई जेल में बंद करने की, मगर तालिबान ने चुप्पी साध रखी थी।

CNN-News18 की रिपोर्ट के मुताबिक, तालिबान के सीनियर नेता आमिर-अल-मुमिनिन ने कहा कि हैबतुल्लाह अखुंदजादा पाक सेनाओं द्वारा समर्थित आत्मघाती हमले में ‘शहीद’ हो गया था। हैबतुल्लाह अखुंदजादा आज तक कभी भी लोगों के सामने नहीं आया और वह एक रहस्य ही बनकर रहा।

अफगानिस्तान की सत्ता में वापसी के बाद ऐसी उम्मीदें थीं कि अब अखुंदजादा सार्वजनिक रूप से सबके सामने आएगा, मगर काबुल पर तालिबानी कब्जे के बाद भी वह सामने नहीं आया तो ऐसे में अफवाहों का दौर शुरू हो गया था।