कोरोना का कहर – दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू का ऐलान, देखिए पूरी लिस्ट

0
26
दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली सरकार ने वीकेंड कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal, Delhi Chief Minister) ने बृहस्पतिवार को वीकेंड कर्फ्यू लगाने का एलान किया है।

वीकेंड कर्फ्यू शुक्रवार रात 10 बजे से शुरू होगा और यह सोमवार सुबह 5 बजे खत्म होगा। वीकेंड कर्फ्यू  के दौरान काफी सारे प्रतिबंध लागू रहेंगे। उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ हुई बैठक में इस बात का फैसला लिया गया। सीएम अरविंद केजरीवाल के मुताबिक, वीकेंड यानी शनिवार और रविवार को दिल्‍ली में कर्फ्यू रहेगा। फिलहाल 30 अप्रैल तक यह प्रावधान किए गए हैं।

जानें क्या-क्या प्रतिबंद होगा लागू

  • वीकेंड कर्फ्यू लगाया जा रहा है जो शनिवार और रविवार को प्रभावी रहेगा।
  • सिनेमा हॉल 30 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे।
  • कर्फ्यू के दौरान जरूरी सेवाएं बाधित नहीं होंगी।
  • जरूरी सेवाएं मुक्त रहेंगी, शादियों के लिए ई पास दिए जाएंगे
  • जिम, स्पा और ऑडिटोरियम बंद रहेंगे।
  • साप्ताहिक बाजार रोजाना एक ज़ोन में एक ही लगेगा।
  • रेस्तरां में अब बैठकर खाना नहीं खा सकेंगे। पैक कराकर घर ले जा सकेंगे

किनको मिलेगी राहत

  • पत्रकार को छूट मिलेगी (प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दोनों)
  • रात में वैक्सीन लगवाने वालों को छूट रहेगी।
  • राशन, किराना, फल सब्जी, दूध, दवा से जुड़े दुकानदारों को ई-पास के जरिए ही मूवमेंट की छूट होगी
  • आइडी कार्ड दिखाने पर प्राइवेट डॉक्टर नर्स पैरामेडिकल स्टाफ को भी छूट मिलेगी
  • वीकेंड कर्फ्यू लगाने के दौरान ट्रेन और हवाई यात्रियों के साथ अन्य राज्यों से आने वाले वाहन चालकों को छूट है। टिकट दिखाकर यात्रा कर सकेंगे।

वीकेंड कर्फ्यू का ऐलान करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि वीकेंड कर्फ्यू के दौरान आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी और इससे संबंधित लोगों को सरकार बिना परेशानी के जल्द से जल्द पास जारी करेगी। इसके अलावा, माॅल्स, जिम, स्पाॅ, आँडिटोरियम पूरी तरह से बंद रहेंगे, जबकि सिनेमा हाॅल 30 फीसद क्षमता के साथ खुल सकेंगे।

अरविंद केजरीवाल ने एलजी अनिल बैजल के साथ हुई बैठक के बाद डिजिटल पत्रकार वार्ता के दौरान कहा कि दिल्ली में हालात काबू में है और बेड की कमी फिलहाल नहीं है। दिल्ली में 5000 से ज्यादा बेड खाली हैं। हर बीमार व्यक्ति को दिल्ली में हर हाल में बेड मिले, इसकी कोशिश है।