अमेरिका की सबसे बड़ी तेल पाइपलाइन पर साइबर हमला, आपातकाल की घोषणा

0
19
अमेरिका की सबसे बड़ी तेल पाइपलाइन पर साइबर हमला

वॉशिंगटन। अमेरिका में सबसे बड़ी तेल पाइपलाइन कंपनी पर साइबर हमला होने के बाद प्रशासन की ओर से आपातकाल की घोषणा कर दी गई है। इस पाइपलाइन से कंपनी रोजाना पूर्वी तट के किनारे बसे राज्यों में पेट्रोल, डीजल और दूसरी गैसों की सप्लाई करती है। कंपनी की ओर से कहा गया है कि वह साइबर हमले की शिकार हो गई है। सभी ऑपरेटिंग सिस्टम हैक कर लिये गए हैं।

परिवहन विभाग की ओर से कहा गया है कि इस घोषणा से गैसोलीन, डीजल, जेट ईंधन और अन्य परिष्कृत पेट्रोलियम उत्पादों के तत्काल परिवहन की आवश्यकता उत्पन्न होने पर आपातकालीन स्थितियों को आवश्यक राहत प्रदान की जाती है। आपातकालीन घोषणा से प्रभावित राज्यों में सड़क मार्ग से ईंधन पहुँचाया जा सकता है। इनमें अलबामा, अर्कनसास, कोलंबिया, डेलावेयर,फ्लोरिडा, जॉर्जिया, केनटुकी आदि राज्य शामिल है।

कोलोनियल की ओर से कहा गया है कि उन्होंने कुछ छोटी डिलीवरी लाइन खोली हैं लेकिन मेन सिस्टम को अभी भी बैक-अप नहीं मिल सका है और जल्द ही हमारा मुख्य सिस्टम बहाल हो जाएगा। वाणिज्य सचिव गीना रायमोंडो ने कहा है कि सप्लाई में किसी भी प्रकार की बाधा ना आए, इसके लिए प्रशासन काम कर रहा है।

उल्लेखनीय है कि अमेरिका में यह साइबर हमला होने के बाद गैस की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है। विश्लेषकों का कहना है कि अगर जल्द ही पाइपलाइन को फिर से नहीं खोला गया तो गैस की कीमतें और बढ़ सकती हैं, क्योंकि तेल की कीमतें सोमवार को एक प्रतिशत से अधिक पहले ही बढ़ गईं।