असम-मिजोरम के बीच खूनी संघर्ष के बाद तनाव चरम पर, CRPF की दो कंपनियां तैनात

0
17
असम-मिजोरम बॉर्डर फायरिंग

असम और मिजोरम के बीच खूनी संघर्ष में असम के 6 जवान शहीद होने के बाद हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। घटना में 50 से ज्यादा लोग घायल भी हुए हैं। मंगलवार को मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने घायलों के बेहतर इलाज के लिए निर्देश दिया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने संघर्ष में अपनी जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी।

असम के मंत्री परिमल सुकलाबैद्य के अनुसार मिजोरम की ओर से की गई गोलीबारी में करीब 80 लोग घायल हो गए। उन्होंने कहा कि असम पुलिस के 6 जवान मारे गए हैं और लगभग 80 लोग इस गोलीबारी में घायल हुए हैं। हमारी तरफ से कोई गोलीबारी नहीं हुई।

सीआरपीएफ की दो कंपनियां तैनात

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल ने असम और मिजोरम के बीच लैलापुर-वैरेंगटे विवादित स्थल पर सीआरपीएफ की दो कंपनियों को तैनात किया है।

मुंख्यमंत्रियों के बीच छिड़ा वाकयुद्ध

मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथंगा और असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के बीच घटना के बाद वाकयुद्ध छिड़ गया है। दोनों ने एक दूसरे की पुलिस को हिंसा के लिए जिम्मेदार बताया और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से हस्तक्षेप की मांग की।