चक्रवात ताऊते का असर, बारिश ने दिल्ली में तोड़ा पिछले कई रिकॉर्ड

0
15
दिल्ली में बारिश

नई दिल्ली। चक्रवात ताऊते का असर दिल्ली में बुधवार रात तक पूरी तरह पहुंच गया। जिसके चलते राष्ट्रीय राजधानी के कई हिस्सों में व्यापक बारिश देखने को मिली। मई महीने में इतनी ज्यादा बारिश लगभग 45 साल पहले हुई थी।

देश के पश्चिमी तट पर तबाही मचाने वाले चक्रवाती तूफान ताउते की वजह से राजधानी दिल्ली में गत बुधवार को रिकॉर्ड बारिश हुई। लगातार हो रही बरसात के चलते दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से 16 डिग्री कम रहा जो पिछले 70 वर्षों में सबसे कम है।

बता दें कि अभी दिल्ली का तापमान और गिरेगा क्योंकि गुरुवार को भी ताउते का असर दिख रहा है। आज भी सुबह से बारिश हो रही है जिसके चलते कई जगहों पर जलभराव हो गया है।

सफदरजंग मौसम केंद्र में सुबह साढ़े आठ बजे से शाम को साढ़े पांच बजे के बीच 31.3 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। जबकि, शाम के साढ़े आठ बजे बारिश का आंकड़ा 60 मिलीमीटर तक पहुंच गया था। देर रात दस बजे तक भी दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में बारिश होती रही।

दिल्ली में दिन का अधिकतम तापमान 23.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जो कि सामान्य से 16 डिग्री कम है। वहीं, न्यूनतम तापमान 21.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जो कि सामान्य से पांच डिग्री है। इस प्रकार से देखें तो न्यूनतम और अधिकतम तापमान में लगभग ढाई डिग्री का ही अंतर रहा।

मौसम विभाग के अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार, इससे पूर्व 1976 के मई महीने की 24 तारीख को 60 मिलीमीटर बरसात हुई थी। ऐतिहासिक तौर पर दिल्ली के लिए मई महीने के किसी दिन का रिकॉर्ड था। पहाड़ियों में बढ़ते पश्चिमी विक्षोभ के साथ इसके मिश्रण से ताजा बारिश और बादल पैदा हुए जिनके कारण दिल्ली और उसके आसपास तेज हवाओं और गरज के साथ भारी बारिश हुई।

हालांकि इसके बाद, बारिश धीरे-धीरे पूर्व की ओर शिफ्ट हो रही है, जिससे दिल्ली में ज्यादातर मौसम साफ रहने का अनुमान है। दिल्ली में 20 और 21 मई को दिन का तापमान सामान्य से 6-8 डिग्री कम रहेगा और उसके बाद सप्ताह के अंत तक तेजी से 36 से 37 डिग्री तक पहुंच जाएगा।